page contents
 

2017 की बेस्ट-सेलर पुस्तकें || Bestseller Hindi Books of 2017

Updated: Oct 5, 2018

2017 की बेस्ट-सेलर पुस्तकें II Bestseller Hindi Books of 2017. This is a tough task to choose the list of bestsellers of any given year, but Dainik Jagaran took this noble responsibility and this brilliant job was finished jointly by Dainik Jagaran, a popular Hindi daily and leading global market research firm Nielson.

हाल ही में विगत वर्ष 2017 में हिंदी भाषा के लिए अपने ही प्रकार की एक बड़ी ही सकारात्मक शुरुआत हुई है, ऐसा पहली बार हुआ है कि व्यवस्थित रूप से हुए शोधात्मक तरीके से हिंदी भाषा की पहली सर्वश्रेष्ठ तथा सर्वाधिक बिकने वाली पुस्तकों की सूची तैयार की गई हैI इसका श्रेय जाता है दैनिक जागरण ग्रुप को जिन्होंने एक अत्यंत उच्च दर्जे की मार्केट रिसर्च फर्म नीलसन के साथ संयुक्त रूप से उक्त सूची पूर्ण की हैI यदि यह आगामी समय में इसी प्रकार चलता रहा तो हर तिमाही में इस प्रकार की श्रेष्ठ पुस्तकों की सूची क्रमबद्ध रूप से तैयार की जाएगी, जिससे कि हिंदी भाषा को उसकी प्रतिष्ठा दिलाई जा सके तथा जनमानस में हिंदी के प्रति दिलचस्पी लाई जा सकेI


इस सूची ने हिंदी भाषा को सचमुच ही वह प्रतिष्ठा वापस दिलाने में अत्यंत प्रशंसा पूर्ण कार्य किया हैI दैनिक जागरण द्वारा प्रस्तुत की गई इस सूची के कारण कई नए विचारकों को एक पहचान मिली है, जिस कारण उनकी पुस्तकों ने सफलता प्राप्त की हैI


हिंदी पाठकों में भी हिंदी के प्रति उदासीनता की स्थिति से हटकर अब इन पुस्तकों के बारे में अधिक जानने की चाहत जाग उठी है, तथा एक सूची के आने के बाद उन्हें अब अगली सूचियों का भी इंतजार रहने लगा हैI


आप सभी पाठकों से भी अनुरोध है कि दैनिक जागरण द्वारा तैयार की गई इन सूचियों से लाभ उठाएं तथा युवा पाठकों को एक सलाह है कि वे इन पुस्तकों को अपने घर में माता पिता या अन्य बुजुर्गों को भेट में देकर हिंदी के उस प्रतिष्ठित काल में वापस जाने का एहसास करा सकते हैंI ध्यान रहे यह मात्र बोलने का एक जरिया ही नहीं है बल्कि लोगों के रोम-रोम में यह बसी हुई हैI हिंदी के पाठक को सच्चा आनंद उनकी मातृभाषा अर्थात हिंदी में पढ़ने में ही मिलता है, इंग्लिश भाषा को पढ़कर समझ तो सकते हैं परंतु आत्मसात करने में कुछ मुश्किल आ सकती है, क्योंकि अधिकतर व्यक्तियों का सोचना उनकी मातृभाषा में ही होता है I


ज्ञात हो कि दैनिक जागरण-नीलसन ने इस सूची में उन पुस्तकों को शामिल किया है जिनका प्रथम संस्करण जनवरी 2011 से आया हैI इसे 3 श्रेणियों में विभाजित किया गया है कथा, कथेतर तथा अनुवादI प्रत्येक श्रेणी में 10-10 पुस्तकों को रखा गया है, इस प्रकार कुल 30 हिंदी पुस्तकें इसमें रखी गई हैंI