page contents
 

हिंदी दिवस पर क्या आप इन 5 आसान तरीकों को उपयोग में लाकर हिंदी की वृद्धि में अपना योगदान देंगे?

पांच आसान कदम, जो हिंदी की स्थिति सुदृढ़ करेंगे!




वर्तमान में हिंदी की स्थिति किसी से छिपी नहीं है, यदि हिंदी की स्थिति में सुधार के लिए कोई भी कदम उठाने की जरूरत है, तो यह जिम्मेदारी हम सभी की है। स्थिति इस हद तक पहुंच चुकी है, कि हिंदी भाषी क्षेत्र में कई घरों में हिंदी पेपर का आना सालों पहले बंद हो चुका है। लगभग सभी मध्यमवर्गीय परिवारों के बच्चे अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में शिक्षा ले रहे हैं। बच्चों को तो छोड़िए, अधिकतर युवाओं को साल की हिंदी महीनों के नाम भी याद नहीं है।


फोन पर बात करते हैं, तो अधिकतर "अंग्रेजी के लिए एक का बटन ही दबता है"। ध्यान कीजिए पिछली बार आपने अपनी डायरी में या सोशल मीडिया पर या कहीं और हिंदी भाषा में कुछ लिखा हो। हिंदी में पढ़ना तो हम अधिक हम सभी जानते हैं, मगर लिखना तो बंद ही हो गया है।


कहने का तात्पर्य यह नहीं है, कि वापस 20-25 साल पहले के समय में लौट जाएं, परंतु समाप्त प्राय हिंदी को, यदि आने वाली पीढ़ी को सही सलामत रूप में देना है, तो उनके सामने उदाहरण प्रस्तुत करना होगा।

सामान्यतया, यह देखा जाता है कि जो हमने बचपन में देखा होता है, वो हम जीवन भर याद रखते हैं। अतः, आने वाली पीढ़ी के सामने हमें कुछ उदाहरण प्रस्तुत करने ही होंगे जिससे कि, हिंदी के उपयोग को कुछ ही सही परंतु बढ़ावा अवश्य मिले। कम उम्र के बच्चे तथा युवा पीढ़ी, इन छोटी-छोटी बातों को उपयोग में लाकर, हिंदी भाषा का उपयोग करना सीखें।


अंग्रेजी भाषा की अपनी उपयोगिता है, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। अतः अपने शिक्षण तथा अन्य आवश्यक अंग्रेजी भाषा क